Old Pension Scheme: पुरानी पेंशन का पूरा पैसा मिलेगा सभी कर्मचारियों को, सरकारी आदेश जारी देखें

देशभर में पुरानी पेंशन स्कीम को लेकर अनुमान लग रहे है और RBI ने इसको लेकर राज्यो को पत्र लिखा हैI RBI के अनुसार ये राज्य सरकारों पर बोझ बढ़ा सकती हैI

Photo of author

Reported by Pankaj Bhatt

Published on

Old Pension Scheme: कर्मचारियों को मिलेगा पुरानी पेंशन का पूरा पैसा, यहाँ देखें पूरी जानकारी, देशभर में पुरानी पेंशन स्कीम को लेकर अनुमान लग रहे है और RBI ने इसको लेकर राज्यो को पत्र लिखा हैI

Old Pension Scheme: पुरानी पेंशन स्कीम की बात करें तो यह सरकार के कर्मचारियों को सेवानिवृति के उपरांत तय वेतन में आधा वेतन मिलता है जो कि जिंदगीभर उनको प्रदान होता है। इस पुरानी पेंशन स्कीम में कर्मचारी को जीवन पर्यन्त आय सुनिश्चित हो जाती है। किसी भी सरकारी सेक्टर में कार्यरत कर्मी की इच्छा होती है कि उनको पुरानी पेंशन स्कीम का फायदा मिलता रहे। वर्ष 2023 में पुरानी पेंशन योजना को खत्म कर दिया था। 2024 से NPS को प्रत्येक केंद्रीय कर्मी के लिए शुरू कर दिया था।

यहां प्रश्न है कि क्या पुरानी पेंशन स्कीम दुबारा लौटेगी अथवा नहीं? इसको लेकर केंद्रीय मंत्री ने कहा है कि जिसकी जानकारी हम देंगे। साथ ही इस बारे में RBI की बात को भी बताने वाले है और क्या OTS भी दुबारा मान्य होगी। यह आर्टिकल आपको पुरानी पेंशन स्कीम को लेकर पूरी डिटेल्स देने वाला है।

OLD Pension Scheme

देशभर में पुरानी पेंशन स्कीम को लेकर चर्चाओं का दौर जारी है और सरकार की तरफ से भी बड़ी खबर है। अभी सरकार किसी नए फैसले को नहीं ले रही है जिससे पुरानी पेंशन स्कीम दुबारा से लागू है। लोकसभा में वित्त मंत्री पंकज चौधरी का कहना था कि पुरानी पेंशन स्कीम के दुबारा लागू होने का कोई निर्णय नहीं हुआ है। राष्ट्रीय पेंशन स्कीम में किन्हीं खास बदलावों के भी अनुमान है जिसको लेकर एक समिति भी बनी है। सरकार के कर्मियों के अनुसार यह पुरानी पेंशन स्कीम भी फिर से शुरू होनी चाहिए।

पुरानी पेंशन स्कीम क्या है?

पुरानी पेंशन स्कीम में किसी केंद्रीय कर्मी के अंशदान को डिपॉजिट करने का प्रोसेस नहीं था। इस वजह से रिटायर होने पर उस कर्मी को आधी सैलरी पेंशन की तरफ से दे देते थे। साथ ही उनको महंगाई भत्ता भी मिलता था। इस कर्मी को बढ़े हुए DA के मामले में भी पुरानी पेंशन स्कीम में पैसे की सहायता बढ़ती थी।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp

वैसे बगैर जमा हुए फंड के कर्मी को पेंशन में DA बढ़ाकर देना सरकार के ऊपर भी बोझ ही बनता है। इस कारण से वित्त जानकारी की राय में OPS का दुबारा आना संभव नहीं है। यह सरकार के लिए बोझ बढ़ाने वाली है।

RBI का पेंशन देने से इंकार

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से प्रत्येक केंद्रीय कर्मी को पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने से इंकार हुआ है। वैसे RBI भारत के प्रदेशों को कह चुका है कि वो OPS को दुबारा कार्यान्वित न करें। अगर OPS को शुरू करेंगे तो फिर प्रदेश की सरकार के वित्त खर्चे में 4.5 गुना की वृद्धि की आशंका है।

RBI की रिपोर्ट के मुताबिक इस वजह से सरकार और कल्याणकारी कामों को ठीक से नहीं कर सकेगी। इसी कारण नई पीढ़ी के लिए पुरानी वाली पेंशन योजना ठीक नही है। ऐसे में ये काम करना आकर्षण लगता है किंतु यह प्रदेश सरकार पर प्रेशर को बढ़ाने का काम करेगा।

व्हॉट्सऐप चैनल से जुड़ें WhatsApp
यह भी देखेंBihar Police New Exam Date 2024: बिहार पुलिस कांस्टेबल की नई परीक्षा तिथि घोषित? यहाँ देखें पूरी जानकारी

Bihar Police New Exam Date 2024: बिहार पुलिस कांस्टेबल परीक्षा तिथि घोषित? देखें कब होगा Exam

उत्तराखंड के शिक्षकों को पेंशन

यहां उत्तराखंड में जिन शिक्षक महाविद्यालय में प्रधानाचार्य की पोस्ट पर नियुक्ति मिली थी उनको एक गुड न्यूज मिल रही है। सरकार एवं उच्च शिक्षा विभाग ऐसे लोगों को ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा देने का फैसला कर चुका है। अब जो भी लोग उत्तराखंड के कालेजों में प्राचार्य बने है तो उनके लिए ये जान लेना अनिवार्य है कि यह स्कीम में लाभार्थी कौन होंगे और उनकी पात्रताएं क्या होगी?

पुरानी पेंशन में निर्धारित पात्रताएं

  • उत्तराखंड के टीचर्स से ओल्ड पेंशन स्कीम के विषय में डीटेल्स मंगवाए है।
  • सिर्फ इसी प्रदेश में टीचर्स को ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा देने का आश्वासन मिल रहा है।
  • स्कीम में उच्च शिक्षा डिपार्टमेंट से उन्ही लोगो को फायदा मिलेगा जोकि साल 2005 से पहले इस पोस्ट पर चुने गए थे।
  • जो भी टीचर्स 10 सालो के लिए रिटायर होते है एवं OPS के फायदे चाहते हो तो वो अपने डीटेल्स को भेजेंगे
  • वर्ष 2005 के उपरांत चुना गया कोई कर्मी ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा नहीं ले पाएगा।

6000 से ज्यादा कर्मचारियों लाभार्थी होंगे

उत्तराखंड के करीबन 6 हजार से ज्यादा टीचर्स को ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा मिलने वाला है। ये टीचर्स एक तय टाइम में उच्च शिक्षा डिपार्टमेंट को उनके डीटेल्स भेजने वाले है। प्रदेश के प्रत्येक महाविद्यालय में प्राचार्य को एक लेटर भी भेजा गया है जोकि यह साफ करता है कि OPS का फायदा कौन से टीचर्स कितने टाइम तक ले सकेंगे। इस नोटिस के बाद ओल्ड पेंशन की में लाभार्थी बनने के इच्छुक टीचर्स को गुड़ न्यूज मिलने वाली है।

पुरानी पेंशन के साथ महंगाई भत्ता

OPS का लाभ सिर्फ 1 अक्तूबर 2005 से पूर्व चुने गए महाविद्यालय के प्राचार्य ही उच्च शिक्षा विभाग से ले पाएंगे। इन लोगों को DA का भी फायदा मिलने वाला है और यह सभी कर्मी ले सकेंगे। अब सेवानिवृत होने वाले प्राचार्यो को इनकम की चिंता नहीं होगी चूंकि उनको ओल्ड पेंशन स्कीम के अंतर्गत आधा वेतन मिलेगा एवं वर्ष में 2 बार DA में वृद्धि मिलेगी।

यह भी पढ़े:-भारतीय वायु सेना में ग्रुप-वाई (नॉन टेक्निकल) मेडिकल असिस्टेंट एयरमैन की भर्ती,

कर्मचारियों को जल्दी ही फायदा मिलेगा

उच्च शिक्षा डिपार्टमेंट के लेटर के मुताबिक, प्रत्येक कर्मी को तय टाइम में अपने डीटेल्स को निदेशालय में भेजना अनिवार्य है। एक बार ये डीटेल्स मिल जाने पर उनको ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा हर एक कर्मी को मिलने लगेगा। यह स्कीम शुरू होने पर टीचर्स को नई पेंशन स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा बल्कि वो ओल्ड पेंशन स्कीम का वेतन पा सकेंगे।

यह भी देखेंभारत के इस राज्य में नहीं है कोई रेलवे स्टेशन, क्या आपको मालूम है इसका नाम?

क्या आपको मालूम है भारत के इस राज्य में नहीं है कोई रेलवे स्टेशन, इसका नाम?

Leave a Comment

हमारे Whatsaap ग्रुप से जुड़ें